गठबंधन पर विशेष : भाजपा को मिला था इतना वोट, सपा—बसपा मिलकर भी नहीं छू पाये थे वो आंकड़ा!!

Ankit Kumar Jaiswal
भारतीय जनता पार्टी का विजय रथ थमने का नाम नहीं ले रहा है एक के बाद एक राज्य केशरिया रंग में रंगते जा रहे है। वहीं उत्तर प्रदेश में अपना विपक्षी पार्टियां भाजपा के इस विजय रथ को रोकने के लिए एकजुट होने लगी है। कभी एक दूसरे के खिलाफ आग उगलने वाले और राजनीति में कट्टर दुश्मन अब अपना पत्ता साफ होता देख साथ हो गये। जी हां हम बात बुआ (मायावती) और भतीजे (अखिलेश) की ही कर रहे है। यूपी के विधानसभा चुनाव में जहां सपा में पारिवारिक कलह पर बसपा सुप्रीमों ने खूब चु​टकियां ली थी और भतीजे को खूब कोसा था तो वहीं सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव ने भी बुआ पर खूब तंज कसे थे। फिलहाल भाजपा के सत्ता में आने के बाद दोनों के होश उड़ गये और ईवीएम गड़बड़ी की माला जपने लगे और आज पार्टी का अस्तित्व खतरे में देख दोनों एक साथ हो गये और गोरखपुर, फूलपुर संसदीय सीट के होने वाले उपचुनाव में बसपा सपा के प्रत्याशियों का समर्थन करेगी।

आपको बता दें कि गोरखपुर से सांसद रहे आदित्यनाथ योगी और फूलपुर से सांसद रहे केशव प्रसाद मौर्या उत्तर प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री है। लोकसभा के चुनाव में योगी को 5 लाख 39 हजार 127 वोट मिला था तो वहीं केशव प्रसाद मोर्या को पांच लाख 3 हजार 564 मिला था और दोनों ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी जबकि गोरखपुर में सपा के प्रत्याशी धर्मराज सिंह पटेल को एक लाख 95 हजार 256 वोट, बसपा के कपिल मुनि को एक लाख 63 हजार 710 मत मिले थे। यदि दोनों के वोटों को मिला दिया जाय तो 3 लाख 58 हजार 966 वोट हुये जो विजयी प्रत्याशी को मिले वोट से 1 लाख 80 हजार 161 कम है। वहीं फूलपुर संसदीय सीट की बात करें तो यहां पर भाजपा के केशव प्रसाद मौर्या को 5 लाख 39 हजार 127 वोट मिले थे जबकि सपा के राजमती निषाद को 2 लाख 26 हजार 344 वोट और बसपा के रामभुआल निषाद को 1 लाख 76 हजार 412 वोट मिले थे। यदि दोनों के वोटों का मिला दिया जाय तो 4 लाख 02 हजार 756 हुए जो विजयी प्रत्याशी को मिले वोट से 1 लाख 36 हजार 371 वोट कम है। 


ऐसे में अब बसपा—सपा का गठबंधन भाजपा को कहां तक रोक पाता है यह समय के गर्भ में है लेकिन भाजपा यहां की जीती हुई सीट को ऐसे ही किसी विपक्षी पार्टी में आराम से नहीं जाने देने वाली है और वह तब जब उस सीट से सांसद रहे दोनों नेता उत्तर प्रदेश के बागडोर संभाल रहे हो। फिलहाल राजनीतिक पंडित इस गठबंधन को आने वाले लोकसभा चुनाव के नजरिए से देख रहे है और शायद इस उपचुनाव में उसका ट्रायल भी हो जाय।


BJP Keshav Prasad Maurya 5,03,564
SP Dharam Raj Singh Patel 1,95,256
BSP Kapil Muni Karwariya 1,63,710
Adityanath BJP 539127
Rajmati Nishad SP 226344
Ram Bhual Nishad BSP 176412

No comments:

Post a Comment

INSTAGRAM FEED

@akjsahara